Raksha Bandhan

Raksha Bandhan Story in Hindi and English

Happy-Raksha-Bandhan-Status-in-Hindi

Raksha Bandhan Story in Hindi and English

राजा बलि की कहानी:-

वेसे तो रक्षा बंधन के त्यौहार को मानाने का कई तरीके हैं अथवा कई तर्क हैं ,हर किसी का अपना अपना तर्क होता हैं। भारत देश मैं रक्षा बंधन को मनाने का बहुत सारे तर्क हैं , और रक्षा बंधन हिन्दुओ का प्रमुख त्यौहार हैं , वेसे तो भारत देश मैं कई त्यौहार मनाये जाते हैं , पर रक्षा बंधन उनमें से एक हैं। आज हम आपको रक्षा बंधन के बारे मैं एक कहानी बताने जा रहे हैं की रक्षा बंधन किस लिए मनाया जाता हैं और क्यों मनाया जाता हैं।

Raja bali or baman avtar
Raja bali or Baman avtar Story

इस महान त्यौहार को मनाने के पीछे कई प्राचीन कथाएं प्रचलित हैं , और उनमें सबसे पहले कहानी है राजा बलि की ,जब भगवान विष्णु ने मानव अवतार मैं एक पग मैं स्वर्ग और दूसरे पग मैं धरती मांग ली थी , तो राजा बलि हर कर धरा तल मैं चला गया था ,तब राजा बली ने घोर तपस्या की और अपने भक्ति के बल से , भगवान को दिन रात अपने सामने रहने का वचन ले लिया।

तब भगवान बिष्णु को राजा बलि का द्वारपाल बनना पड़ा ,इससे माता लक्ष्मी व्याकुल हो गयी तब नारद मुनि ने , उन्हें समझाया , नारद मुनि के कहने पर लक्ष्मी जी ने राजा बलि के पास जा कर उन्हें राखी बाँध कर अपना भाई बनाया और उपहार स्वरूप अपने पति भगवन बिष्णु को अपने साथ ले आयी ,वो दिन सावन मास का पूर्णिमा का दिन था। उसी दिन से कही जगह पर रक्षाबंधन मनाया जाने लगा।

Raja Bali or Baman avtar Bisnu Dev

रक्षाबंधन का मंत्र है। येन बँधो बलि राजा ,दानवेन्द्रो महाबल:, तेन त्वां प्रतिबध्रामी ,रक्षे !मा चल !
मा चल !!

Story of King Bali:-

There are many ways to follow the festival of Raksha Bandhan or there are many arguments, everyone has their own logic. India has many arguments to celebrate Raksha Bandhan, and Raksha Bandhan is one of the main festivals of Hindus, so many festivals are celebrated in India, but Raksha Bandhan is one of them. Today, we are going to tell you a story about Raksha Bandhan that why Raksha Bandhan is celebrated and why it is celebrated.

Happy Raksha Bandhan Images

Many ancient stories are prevalent in celebrating this great festival, and the first thing in them is the sacrifice of Raja, when Lord Vishnu had asked for a step I had asked for the heaven and the second leg of the human incarnation, then the king sacrificed everything. When I was gone, then the King Bali had a terrible penance and on the strength of his devotion, God took the promise of staying in front of me day and night.

Then Lord Vishnu had to become the gatekeeper of the King Bali; When Mata Lakshmi was disturbed, Narad munni explained to him, on the request of Narada Muni, Lakshmi ji went to Raja Bali and tied her rakhi to make her brother and gifted herself as a gift The husband brought God with him, that day was the full moon day of the month of Savan. From that day onwards, Rakshabandhan was celebrated at some place.

देवराज इंद्र की कहानी

Happy Raksha Bandhan Images

दूसरी कथा देवराज इंद्र से जुडी हुई हैं। जिसके अनुसार बारह वर्षों तक असुर संग्राम होता रहा ,और बारह वर्षों तक हर बार जब भी असुरों और देवताओ के बीच युद्ध होता था तो हर बार असुरों की विजय होती थी और सुरो की पराजय। और देवताओं की बार बार हार हो रही थी। तब ब्रह्मा ने आदेश दिया और इन्द्राणी को कहाकी तुम रक्षा बिधान करो और रक्षाबंधन की राखी बनाकर इंद्र को पहनाओ और

इस पर परम पिता ब्रह्मा के उपदेश पर इन्द्राणी रक्षा बिधान कर रक्षाबंधन बनाकर इंद्र को बंधाती है। जिसके प्रभाव से इंद्र सहित सभी देवताओं की जीत हुई। तब राखी पत्नी द्वारा पति की रक्षा के लिए बाँधी गयी थी ,लेकिन धीरे धीरे ये बहिनों द्वारा भाइयों के रक्षा के लिए बाँधी जाने लगी।

Happy Rakshabandhan रक्षा बन्धन की हार्दिक सुभ कामनायें

इसी संदर्व मैं एक कथा महाभारत युग की भी हैं। इस दौरान जब श्री कृष्ण ने अपने सुदरसन चक्र से सिसुपाल का वध किया तब श्री कृष्ण के ऊँगली मैं भी चोट आयी ,और रक्त का बहाव होने लगा। तब उसे देखते ही वहा मौजूद द्रोपदी ने तुरंत अपनी साडी का टुकड़ा काटा और श्री कृष्ण की उंगली पर बांध दिया ,द्रोपती की इस व्याकुल को देखते हुए श्री कृष्ण ने भावुक हो कर वचन दिया और कहा की वे सारी उम्र अपनी बहिन की रक्षा करेंगे। इसी ऋण को चुकाने के लिए दुसाशन द्वारा चिर हरण करते समय श्री कृष्ण ने द्रोपती की लाज रखी तो ये थी रक्षा बंधन से जुडी कथाएँ।

हमारी और से आपको ढेर सारी सुभ कामनाये इसी तरह के और भी कहानी पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लीक करें। :-

Raksha Bandhan Images

Story of Devraj Indra:-

The second story is related to Devraj Indra. According to which there was a battle for twelve years, and for twelve years every time whenever there was a war between the Asuras and the Gods, the defeat of the Asuras was won every time and the defeat of Suro. And the gods were losing again and again. Then Brahma ordered and asked Indran, you make a defense and make Rakshabandhan Rakhi and wear Indra and,

Happy Raksha Bandhan Images

On this, on the advice of Param Pita Brahma, Indran Bindra protects Indra by making defenses and making Rakshabandhan. With that effect all the gods, including Indra, won. Then Rakhi’s wife had to intervene to protect her husband, but gradually they began to interfere with the sisters to protect the brothers.

This is the same story I also have a story of Mahabharata era. During this time when Shri Krishna slaughtered Sisupala with his Sudarshan Chakra, then even the finger of Shri Krishna was hurt, and the blood started flowing. Draupadi, present at that time, cut his piece of sari immediately and tied it on the finger of Shri Krishna, in view of the distraction of Dripiti, Shri Krishna made a passionate speech and said that he would protect his sister all the time. When Shri Dashashan kept his shame in paying the debt to repay this debt, then it was the stories related to the protection bond.

Click on this link to read more and more stories from us and many good wishes. : –

Raksha bandhan images
Raksha bandhan images